Wednesday, October 5, 2022
Homeदेश की खबरेITR: अब नहीं लगेगा लेट ITR फाइल करने पर जुर्माना, देखे क्या...

ITR: अब नहीं लगेगा लेट ITR फाइल करने पर जुर्माना, देखे क्या है अपडेट

ITR: अब नहीं लगेगा लेट ITR फाइल करने पर जुर्माना, देखे क्या है अपडेट, आईटीआर फाइल करने की अंत‍िम त‍िथ‍ि 31 जुलाई नजदीक है और व‍िभाग की तरफ से लास्‍ट डेट बढ़ाने से साफ मना कर द‍िया गया है. लेक‍िन शायद ही आपको जानकारी हो क‍ि एक न‍ियम ऐसा भी है ज‍िसके तहत 31 जुलाई के बाद आईटीआर फाइल करने पर भी पेनाल्‍टी नहीं लगेगी.

ये भी पढ़िए – प्रियंका चोपड़ा का प्राइवेट वीडियो हुआ वायरल, जोरो से देख रहे लोग इस वीडियो को

ये भी पढ़िए – बॉलीवुड की इस एक्ट्रेस ने पैसो के लिए कई मर्दो से बनाये सम्बन्ध, खुद ने खोला बॉलीवुड का काला चिटठा

आयकर विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक 26 जुलाई तक 3.4 करोड़ लोगों ने आयकर रिटर्न दाखिल किया है. विभाग की ओर से आईटीआर फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2022 तय की गई है. 15 जून 2022 से शुरू हुई आईटीआर फाइलिंग की प्रक्रिया दो और दिन (31 जुलाई तक) जारी रहेगी. हालांकि, इनकम टैक्स के एक नियम के तहत 31 जुलाई के बाद आईटीआर फाइल करने पर भी आपको पेनल्टी नहीं देनी होगी. आइए जानते हैं क्या है ये नियम?

फाइलिंग वाली वेब साइट हुई स्लो

आयकर विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक 26 जुलाई तक 3.4 करोड़ लोगों ने आयकर रिटर्न दाखिल किया है. विभाग की ओर से आईटीआर फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2022 तय की गई है. 15 जून 2022 से शुरू हुई आईटीआर फाइलिंग की प्रक्रिया दो और दिन (31 जुलाई तक) जारी रहेगी. हालांकि, इनकम टैक्स के एक नियम के तहत 31 जुलाई के बाद आईटीआर फाइल करने पर भी आपको पेनल्टी नहीं देनी होगी. आइए जानते हैं क्या है ये नियम?

देखे छूट की सीमा

आयकर विशेषज्ञों का कहना है कि आयकर की धारा 234एफ के तहत यदि किसी व्यक्ति की वित्तीय वर्ष में कुल आय मूल छूट की सीमा से अधिक नहीं होती है, तो देर से आईटीआर दाखिल करने में कोई अंतर नहीं है। आसान भाषा में कहें तो वित्तीय वर्ष 2021-22 तक आपकी कुल आय
2.5 लाख या उससे कम, तो आपको 31 जुलाई के बाद इनकम टैक्स भरने पर कोई पेनल्टी नहीं देनी होगी. आपकी ओर से फाइल किया गया ITR जीरो (0) ITR कहलाएगा.

उम्र और सालाना आय पर भी होगी छूट

इसी तरह अगर कोई पुरानी टैक्स व्यवस्था को चुनता है तो 60 साल से कम उम्र वालों के लिए यह छूट 2.5 लाख रुपये है। वहीं, 60 साल या उससे ज्यादा और 80 साल से कम उम्र वालों के लिए 3 लाख रुपये तक की इनकम टैक्स फ्री है. इसी तरह 80 साल से अधिक उम्र वालों के लिए बेसिक छूट की सीमा 5 लाख है।