धर्म

Bhanu Saptami 2024: मार्च में कब है भानु सप्तमी? जानिए तिथि, पूजा विधि और महत्व

Bhanu Saptami 2024: सनातन धर्म में भानु सप्तमी का व्रत शुभ और विशेष माना जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार, हर महीने कृष्ण पक्ष की सप्तमी तिथि को भानु सप्तमी मनाई जाती है। इस बार भानु सप्तमी 3 मार्च 2024 दिन रविवार को मनाई जाएगी। इसे रथ सप्तमी और अचला सप्तमी भी कहा जाता है। मान्यता है कि भानु सप्तमी के दिन व्रत रखने से सूर्य देव प्रसन्न होते हैं और मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं। इसके साथ ही रोगों से मुक्ति मिलती है और स्वास्थ्य में सुधार होता है। तो आइए जानते हैं भानु सप्तमी पूजा विधि और महत्व के बारे में.

यह भी पढ़े:-1 लाख रु देकर घर ले आये Toyota की चमचमाती मिनी Fortuner, तगड़े माइलेज और धमाकेदार फीचर्स के साथ जानिए कैसे

भानु सप्तमी तिथि

हर महीने कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि के दिन भानु सप्तमी का पर्व मनाया जाता है। इस बार फाल्गुन मास में भानु सप्तमी 3 मार्च, 2024 रविवार के दिन पड़ रही है। यह पर्व हर माह मनाया जाता है।

भानु सप्तमी पूजा विधि

  • भानु सप्तमी के दिन प्रातः जल्दी उठकर स्नान करें और स्वच्छ कपड़े धारण करें।
  • सूर्य देव की प्रतिमा को तांबे के पात्र में जल भरकर उसमें लाल चंदन, कुमकुम, अक्षत, फूल आदि डालकर स्नान कराएं।
  • इसके बाद सूर्य देव को फल, मिठाई, गुड़, चना, तांबे का सिक्का आदि अर्पित करें।
  • भानु सप्तमी के दिन सूर्य को अर्घ्य देते समय गायत्री मंत्र का जाप करें।
  • साथ ही इस बीज मंत्र ‘ॐ घृणिः सूर्य आदित्यः’ या ‘ॐ सूर्याय नमः’ का भी जाप करें।
  • अंत में सूर्य देव की आरती करें और भगवान सूर्य देव से आशीर्वाद प्राप्त करें।

यह भी पढ़े:-Iphone को हैंग करा देगा Realme का 5G स्मार्टफोन, अमेजिंग कैमरा क्वालिटी के साथ दमदार बैटरी, देखे कीमत

भानु सप्तमी महत्व

भानु सप्तमी का भी एक अलग ही विशेष महत्व होता है। भानु सप्तमी के दिन व्रत करने से लोगों की मानसिक और शारीरिक शक्ति में भी सुधार होता है। हिंदू धर्म में भानु सप्तमी का विशेष महत्व होता है क्योंकि इस दिन सूर्य देव की पूजा से आरोग्य, धन, समृद्धि और सफलता प्राप्त होती है। सूर्य देव को जीवन, ऊर्जा और शक्ति का प्रतीक माना जाता है। इस दिन सूर्य देव की आराधना करने से बीमारी दूर होती है और अच्छा स्वास्थ्य मिलता है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, इस दिन सूर्य देव की पूजा करने से ग्रहों के नकारात्मक प्रभावों से भी मुक्ति मिलती है। सूर्य देव को जीवन का आधार माना जाता है इसलिए उनकी पूजा से जीवन में सुख-शांति और समृद्धि आती है। ऐसा करने से सूर्य देव का आशीर्वाद प्राप्त होगा। साथ ही घर धन और धान्य से भरा रहेगा।

Back to top button