Hypertension: ब्‍लड प्रेशर को करना चाहते है कंट्रोल, तो कम मात्रा में करें नमक का सेवन, इन बातों रखें खास ध्यान

Written by Ankita

Published on:

Hypertension : नमक खाने में इस्‍तेमाल की जाने वाली वो चीज है, जिसके बिना किसी का काम नहीं चलता, इसलिए हर किसी को ये जरूर मालूम होना चाहिए कि हाई बीपी और अन्‍य तमाम बीमारियों से बचाव के लिए दिनभर में कितना नमक खाना चाहिए. वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के मुताबिक, दुनियाभर में 30-79 उम्र के 128 करोड़ लोग हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से ग्रस्त हैं। सोडियम की मात्रा अधिक होने की वजह से हाइपरटेंशन का खतरा बढ़ जाता है।

इसके अलावा नमक को हाई ब्‍लड प्रेशर के मरीजों का दुश्‍मन माना जाता है. आज के समय में हाई बीपी के मरीज तेजी से बढ़ रहे हैं. इसका एक कारण तेज नमक खाने की आदत भी है. हाई बीपी जैसी खतरनाक समस्‍या वाले लोगों को कम मात्रा में नमक का सेवन करना चाहिए। तो आइये जानते है किन-किन कारणों से बीपी बढ़ता है और इस किस तरह से कंट्रोल कर सकते है।

यह भी पढ़े:-iPhone की बत्ती बुझा देंगा Realme का 5G स्मार्टफोन, धाकड़ कैमरा क्वालिटी और फीचर्स के साथ देखिए कीमत

एक्सपर्ट्स के अनुसार, पेसेंट अधिक सोडियम की मात्रा का सेवन करने से ब्लड प्रेशर बढ़ाने लगता है, हाइपरटेंशन उस कंडिशन को कहा जाता है, जिसमें रक्तचाप यानी ब्लड प्रेशर 140/90 mmHg या उससे अधिक हो जाये। हाइपरटेंशन का इलाज न होने पर, यह स्ट्रोक और हार्ट अटैक जैसी जानलेवा स्थिति उत्पन्न कर सकता है। इसलिए हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कंट्रोल करना काफी जरूरी होता है। जिन लोगों को किडनी से जुड़ी कोई समस्या होती है, वे पोटेशियम युक्त नमक का सेवन न करें।

हाइपरटेंशन कंट्रोल करने के लिए इन बातों रखें ध्यान

डाइट में शामिल करें हेल्दी भोजन

आपको हेल्दी खानें में प्रोसेस्ड, अधिक नमक, शुगर और अनहेल्दी फैट वाले फूड आइटम्स को शामिल करने की वजह से ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। इसलिए सीजनल फल, सब्जी, साबुत अनाज, नट्स आदि को अपनी डाइट शामिल करें। ये आसानी से वजन कम करने में मददगार साबित होगा।

नियमित करें एक्सरसाइज

शरीर को फिजिकली एक्टिव न रखने की वजह से ब्लड प्रेशर का खतरा अधिक बढ़ जाता है। इसलिए नियमित तौर से एक्सरसाइज करते रहना चाहिए। इसके लिए आपको रोज कम से कम 30 मिनट का समय निकाल कर एक्सरसाइज करें। एरोबिक एक्सरसाइज और स्ट्रेंथ ट्रेनिंग इसमें खासकर फायदेमंद हो सकती है।

वजन करें कम

यह भी पढ़े:-मटर के छिलकों से घर में बनाएं ऑर्गेनिक खाद, गार्डन की सुंदरता में लगेंगे चार चांद, आइये जानें

वजन ज्यादा होने की वजह से हाइपरटेंशन का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए अगर आप ओवरवेट या ओबीस हैं, तो वजन घटाने की कोशिश करें। इससे आपके ब्लड प्रेशर पर काफी असर पड़ेगा। इसके अलावा, अपनी वेस्ट साइज का भी ध्यान रखें। वेस्ट साइज ज्यादा होने की वजह से भी हाइपरटेंशन का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है।

एल्कोहल और स्मोकिंग से रहें दूर

यदि आप स्मोक और शराब पीते है तो ब्लड प्रेशर का खतरा ज्यादा बढ़ता है। स्मोकिंग आर्टरीज की दिवारों को नुकसान पहुंचाता है और दिल के लिए भी हानिकारक होता है। शराब न केवल ब्लड प्रेशर बढ़ाती है बल्कि, इस हाइपरटेंशन को कंट्रोल करने के लिए ली गई दवाई के प्रभाव को भी कम करती है। इस इन सीग्रेट और शराब दोनों से ही दूर रहें। ये आपके शरीर को नष्ट करने के लिए होते है।

Leave a Comment