Cauliflower Farming: फूलगोभी की खेती से किसानों को मिलेगा अच्छा मुनाफा, जानिए उन्नत किस्में और बुवाई का तरीका

Written by Ankita

Published on:

Cauliflower Farming: किसान सीजन के अनुकूल फसलों की खेती की जाती है फूल गोभी की फसल से किसान अच्छा मुनाफा ले सकते हैं। महाराष्ट्र में गोभी की खेती सर्वाधिक की जाती है। भारत वर्ष की शीतकालीन गोभी वर्गीय सब्जियों में एक प्रमुख सब्जी है। सीजन के शुरुआती दौर में इसकी डिमांड अच्छी रहती है। इसल‍िए दाम अच्छा म‍िलता है। फूलगोभी की खेती से किसान कम समय में अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं। फूलगोभी में फास्फोरस, पोटेशियम, सल्फर, चूना, सोडियम, आयरन और विटामिन ए जैसे खनिज म‍िलते हैं। इसलिए इसकी मांग ज्यादा रहती है। आइए जानते है फूलगोभी की खेती के बारे में.

यह भी पढ़े:-Jimny को जोर का झटका देंगी Mahindra की 5 Door Thar, मनाली में हुयी स्पॉट, जाने क्या होंगी कीमत

फूलगोभी की उन्नत किस्में

किसानों को फूलगोभी की खेती से किसी भी सीजन में अच्छी उपज प्राप्त करने के लिए कुछ बेहतरीन किस्मों को विकसित किया है, जिनमें पूसा अश्विनी, पूसा मेघना, पूसा कार्तिक और पूसा कार्तिक शंकर आदि शामिल हैं।

फूल गोभी की अन्य अगेती किस्मों में– पूसा दिपाली, अर्ली कुवारी, अर्ली पटना, पन्त गोभी- 2, पन्त गोभी- 3, पूसा कार्तिक, पूसा अर्ली सेन्थेटिक, पटना अगेती, सेलेक्सन 327 और सेलेक्सन 328 आदि शामिल हैं।

फूलगोभी की पछेती किस्मों में– पूसा स्नोबाल-1, पूसा स्नोबाल-2, पूसा स्नोबॉल-16 आदि शामिल हैं।

फूलगोभी की मध्यम किस्मों में– पंत सुभ्रा, पूसा सुभ्रा, पूसा सिंथेटिक, पूसा अगहनी उयर पूसा स्नोबॉल आदि शामिल हैं।

फूल गोभी की खेती के लिए मिट्टी

फूल गोभी की खेती के लिए जैविक पदार्थों से भरपूर उपजाऊ हल्की दोमट मिट्टी काफी उपयुक्त होती है। अम्लीय से हल्की क्षारीय दोमट मिट्टी विशेष उपयोगी है। इसके अतिरिक्त भूमि भी अच्छी जल निकासी वाली होनी चाहिए। मिट्टी का पी.एच मान 5.5 से 6.8 के मध्य होना चाहिए।

यह भी पढ़े:-Raw Banana Benefits: कई पोषक तत्वों का भंडार है कच्चा केला, जानें खाने से 5 हैरान कर देने वाले फायदे

फूल गोभी की खेती के लिए जलवायु

फूल गोभी की खेती के लिए भी ठंडी और नमी वाली जलवायु बेहतर मानी जाती है। तापमान 20-25 डिग्री सेल्सियस होना बेहद जरूरी है। बुआई अगस्त के अंतिम सप्ताह से 15 सितम्बर तक कर देना चाहिए।

इस तरह से करे फूल गोभी की खेती

खेती के लिए बलुई दोमट मिट्टी और चिकनी दोमट मिट्टी लें। मिट्टी की 2 बार हल से जुताई करें। इसके बाद खेत में दो बार कल्टीवेटर चलाएं। मिट्टी में जैविक खाद की मात्रा अधिक हो वह फूलगोभी की उपज के लिए बेहद अच्छी होती है। इसके बाद थोड़ी दुरी पर बीज रोपण करें। फूल आने पर दो-तीन निकाई-गुड़ाई से खरपतवार करें। इस तरह से आप खरीफ सीजन में फूल गोभी की खेती करके अच्छा मुनाफा कमा सकते है।