Friday, January 27, 2023
Homeदेश -विदेशचीन कर रहा है अपनी एटमी ताकत में और ज्यादा बढ़ोतरी, क्या...

चीन कर रहा है अपनी एटमी ताकत में और ज्यादा बढ़ोतरी, क्या आने वाले सालो में चीन छोड़ देगा रूस को पीछे

चीन कर रहा है अपनी एटमी ताकत में और ज्यादा बढ़ोतरी, क्या आने वाले सालो में चीन छोड़ देगा रूस को पीछे, पोर्ट में कहा गया है कि चीन जमीन, समुद्र और हवा में मार करने वाले परमाणु हथियारों की तादाद बढ़ा रहा है और अपने परमाणु बलों का विस्तार करने के लिए जरूरी बुनियादी ढांचे का निर्माण कर रहा है

अमेरिकी रक्षा मंत्री ने दिया चौकाने बयान

pic 3

एक तरफ दुनिया में रूस और यूक्रेन के बीच जंग छिड़ी हुई है तो दूसरी ओर अमेरिकी रक्षा मंत्रालय (पेंटागन) ने चीन को लेकर चौंकाने वाला अनुमान जताया है. पेंटागन ने कहा है कि चीन के पास साल 2035 तक करीब 1,500 परमाणु हथियार होने की संभावना है. अभी के अनुमान के मुताबिक, उसके पास 400 परमाणु भंडार हैं.

यह भी देखे : Hyundai Venue SUV की कीमतों में हुई भारी बढ़ोतरी, कीमत जानकर उड़ जायेंगे आपके होस क्या हुआ है फीचर्स में भी कोई अपडेट

चीन बना रहा है अपने सैन्य बल को और मजबूत

चीन के महत्वाकांक्षी मिलिट्री प्रोग्राम पर संसद में अपनी सालाना रिपोर्ट में पेंटागन ने मंगलवार को कहा कि अगले दशक तक बीजिंग का मकसद अपनी परमाणु ताकतों का आधुनिकीकरण करना, उसमें विविधता लाना और उसका विस्तार करना है. उसने कहा कि चीन की मौजूदा परमाणु आधुनिकीकरण की कवायद पहले की आधुनिकीकरण की कोशिशों के मुकाबले कहीं ज्यादा बड़े पैमाने पर है. रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन जमीन, समुद्र और हवा में मार करने वाले परमाणु हथियारों की तादाद बढ़ा रहा है और अपने परमाणु बलों का विस्तार करने के लिए जरूरी बुनियादी ढांचे का निर्माण कर रहा है.

यह भी देखे :Tata ने लांच की Sunroof वाली न्यू Blackbird है Creta का बाप, नेक्सॉन से भी धांसू होंगे फीचर्स, कम पैसो में फुल मजा

अभी कितने है चीन के पास परमाणु हथियार

pic 1 2

पेंटागन ने कहा कि उसका अनुमान है कि चीन का संचालनात्मक परमाणु आयुध भंडार 400 के पार चला गया है. रिपोर्ट के अनुसार, पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की 2035 तक अपने राष्ट्रीय रक्षा और सशस्त्र बलों का आधुनिकीकरण पूरा करने की योजना है. इसमें कहा गया, ‘अगर चीन इसी रफ्तार से परमाणु विस्तार करता है तो 2035 तक करीब 1,500 आयुध भंडार कर सकता है.’

कौनसा देश है परमाणु हथियार की रेस में सबसे आगे

बता दें कि सबसे ज्यादा हथियार फिलहाल रूस के पास हैं. उसके भंडार में 5,977 परमाणु हथियार हैं जबकि अमेरिका के पास 5428. भारत के पास सिर्फ 159 परमाणु हथियार हैं. पेंटागन की रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन ने साल 2021 में 135 बैलिस्टिक मिसाइल टेस्ट किए हैं. ये पिछले साल दुनिया में किए गए सबसे ज्यादा परीक्षण हैं. एक अमेरिकी रक्षा अधिकारी ने कहा है कि चीन का मकसद बेहद चिंताजनक है. उसमें अमेरिका को चुनौती देने की ताकत है और इसकी एक वजह टेक्नोलॉजी भी है.

RELATED ARTICLES

Most Popular