Saturday, February 4, 2023
Homeउन्नत खेतीमध्यप्रदेश में खाद के पड़े लाले, दिनभर से भूके प्यासे लाइन में...

मध्यप्रदेश में खाद के पड़े लाले, दिनभर से भूके प्यासे लाइन में धक्के खा रहे किसान, नहीं मिल रहा खाद, इन राज्यों का बहुत बुरा हाल

मध्यप्रदेश में खाद के पड़े लाले, दिनभर से भूके प्यासे लाइन में धक्के खा रहे किसान, नहीं मिल रहा खाद, इन राज्यों का बहुत बुरा हाल। मध्यप्रदेश में बीते एक माह से खाद के लिए किसानों के बीच हाहाकार मचा है। खाद बिक्री केंद्रों में लंबी-लंबी लाइन लग रही है। भूखे प्यासे किसान धक्के खाने को मजबूर है। मंत्री जी कहते हैं कि खाद पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है, लेकिन हकीकत यह है कि किसानों को पर्याप्त मात्रा में खाद नहीं मिल पा रहा है, जिससे किसान बेहद परेशान है।

ये भी पढ़े- छात्र ने पास होने के लिए दी टीचर को रिश्वत, परीक्षा कॉपी में रख दिए 100-100 के तीन नोट, आखिर में लिख दिया ‘I LOVE MY POOJA’

हजारो की संख्या में खाद का टोकन पाने के लिए दिन भर धक्के खा रहे है किसान

Thousands of farmers are getting pushed throughout the day to get fertilizer tokens

shajapara ma bha khatha ka le kasana parashana ha raha ha 1668171456

श्योपुर में शनिवार को सुबह 3 बजे से जिला मुख्यालय के खाद बिक्री केंद्र पर किसानों की भारी भीड़ जमा है। 4 से 5 लंबी-लंबी लाइनें लगी हुई है। जिनमें हजारों की संख्या में किसान मौजूद है। यह किसान पहले टोकन पाने के लिए दिन भर धक्के खाएंगे। कुछ लोगों को रविवार की रात तक टोकन मिल पाएंगे। इसके बाद सोमवार से इन किसानों को फिर से खाद लेने के लिए धक्के खाने पड़ेंगे। इस तरह के हालात एक या दो दिन से नहीं बल्कि पिछले 15 दिनों से किसानों को जूझना पड़ रहा है।

ये भी पढ़े- Wheat New Rate: गेहूँ के दामों में आया भारी उछाल, 400 से 500 रूपये प्रति क्विंटल तेज हुआ रेट, देखे नए रेट

मजबूर किसान को रबी की फसल के लिए है खाद की जरुरत

Forced farmer needs fertilizer for rabi crop

1500x900 426326 fata 12 upabhakata bhadara para khatha lna ka lga kasana ka lina1668605049

मजबूर किसान लाइनों में धक्के खा रहे है क्योंकि रबी के सीजन की फसलों के लिए उन्हें खाद की जरूरत है। लेकिन हैरान कर देने वाली बात है कि जिले के अधिकारी किसानों की परेशानी को कम करने की बजाए केंद्रों पर छाया और पानी के इंतजाम तक नहीं करवा रहे हैं। इससे किसान और भी ज्यादा परेशान हो रहे हैं। किसानों का कहना है कि वह सुबह 3 बजे से खाद विक्रय केंद्र की लाइनों में धक्के खा रहे हैं, पिछले कई दिनों से इस तरह के हालात बने हुए हैं। प्रशासन ने छाया पानी तक इंतजाम नहीं किए हैं, इससे वह और भी ज्यादा परेशान है।

श्योपुर जिले में 15 दिनों से खाद के लिए भटक रहे है किसान

Farmers are wandering for fertilizers since 15 days in Sheopur district

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि खाद पूरे देशभर में और श्योपुर जिले में भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है, खाद कि कहीं भी कोई कमी नहीं है। लेकिन लाइनों में खड़े किसानों का कहना है कि साहब पिछले 15 दिन से खाद के लिए भटक रहे है। सुबह 4 बजे से ही खाद केंद्र पर आ जाते है, लेकिन अभी तक खाद नहीं मिला है।

प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केंद्र पर भूके प्यासे सुबह 5 बजे से खाद के लिए पहुंचे किसान

Hungry thirsty farmers reached Prime Minister Kisan Samridhi Kendra for fertilizer from 5 am

1668244541

धार के कृषि उपज मंडी स्थित प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केंद्र पर सुबह 5 बजे से अन्नदाता खाद के लिए पहुंचे। भूख प्यास से परेशान किसानों ने पावती जमीन पर रखकर लाइन लगाई है। कई महिला किसान भी परेशान नजर आई। किसानों को यूरिया खाद के लिए परेशान होना पड़ रहा है, तकरीबन 50 से 60 गांव के किसान लाइन में खड़े है लेकिन 12 बजे तक भी खाद की दुकान नहीं खुली।

जानिए इस बात पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान क्या कहते है

Know what the Chief Minister of Madhya Pradesh Shivraj Singh Chouhan has to say on this matter.

वहीं आक्रोशित किसानों ने कहा कि मामाजी को क्या कहें, उन्होंने कहा था कि धीरज रखना खाद सबको मिलेगा, लेकिन खाद नहीं मिल रहा है। इसका परिणाम चुनाव में दिखाई देगा।

दुकान के मैनेजर रात में खाली करवा रहे खाद की बोरिया

The shop manager is getting the manure sacks emptied at night

दुकान के मैनेजर ने कहा कि गोडाउन में खाद की गाड़ी को खाली करवा रहे थे। किसान चाहे 4 बजे आ जाये खाद की गाड़ी खाली होगी, मशीन में चढे़गा उसके बाद ही किसानों को खाद उपलब्ध करवाएंगे। जैसी उपलब्धता है वैसे ही खाद बांट रहे है। कल भी रात तक खाद बांटी गई है।

RELATED ARTICLES

Most Popular