खेती-किसानी

Gardening tips: गुड़हल के पौधें में कलियां पीली होकर गिर रही है तो करें ये काम, जानिए टिप्स

Gardening tips: गुड़हल के पौधें में कलियां पीली होकर गिर रही है तो करें ये काम, जानिए टिप्स, अक्सर बगीचे में लगे पेड़-पोधो का समय-समय पर खास ध्यान रखना होता है। ज्यादतर लोग फूलों के पौधे ज्यादा लगाते है। क्योंकि फूलों का इस्तेमाल भगवान की पूजा करने में किया जाता है। ऐसे में गुड़हल के फूल दिखने में बेहद खूबसूरत होते हैं। इसमें कई सारी कालिया और फुल लगते है। इसका इस्तेमाल औषधीय के रूप में किया जाता है। ये कई बीमारियों को दूर करने मदद करते है। लेकिन आपको इस पौधे का गर्मियों में अच्छे से देखभाल करना होता है।

यह भी पढ़े:-बालों पर नारियल तेल में मिलाकर लगाएं ये एक चीज़, सफेद बालों से मिलेगा छुटकारा, नहीं पड़ेगी डाई और कलर लगाने की जरूरत

आपको बता दे अगर आप गुड़हल के पौधे का ध्यान नहीं रखते है तो गुड़हल के पौधे में सफेद कीड़े, मैनी, पत्तों का पीला होना और कलियों का पीला होकर गिरना इस तरह की कई समस्या होने लगती है। इतना ही नहीं पौधे में अच्छे फूल भी नहीं आते है। ऐसे में लोगो को पौधे की कटाई और छंटाई करते रहना चाहिए। आज हम इस लेख में आपको गुड़हल के पीले पड़ रहे कलियों के उपचार बताएंगे। चलिए जान ले कि गुड़हल के पौधे का किस तरह से ध्यान रखने के बारे में.

ऐसे बनाएं गुड़हल के पौधे के लिए होममेड फर्टिलाइजर

पौधे में पोषक तत्वों की कमी के कारण गुड़हल के पौधे की कलियां पीली होकर गिरने लगती है। जिन्हे आप बेकार समझ कर फेंक देते है। लेकिन कुछ चीजों की मदद से फर्टिलाइजर बनाकर पौधे में लगी बीमारी को ठीक कर सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ चीजों की जरूरत पड़ेगी।

1- एक पके हुए केले का छिलका
2- एक लीटर पानी

इस तरह बनाएं फर्टिलाइजर

1- फर्टिलाइजर बनाने के लिए आप चाकू की मदद से केले के छिलके को बारीक काट लें।
2- अब एक लीटर पानी में कटे हुए छिलके को डालकर ढक्कन बंद करें।
3- अगर आपने इसे 48 घंटे के लिए छोड़ दिया है तो फर्टिलाइजर फर्मंटेड बनाकर तैयार हो जायेगा।
4- इसके बाद 48 घंटे बाद पानी को छान लें और एक बॉटल में स्टोर करें।

यह भी पढ़े:-Millet Cultivation: बाजरे की खेती से कम समय में अच्छा मुनाफा, जानें इसकी खेती के बारे में सब कुछ

इस तरह से करें पौधे में फर्टिलाइजर का इस्तेमाल

  • फर्टिलाइजर इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले पौधे की गुड़ाई कर लें।
  • इसके बाद तैयार फर्टिलाइजर को एक लीटर पानी में करीब आधा गिलास खाद मिलाकर पौधे की जड़ में डालें।
  • अब इसे पोधो के पत्ते पर भी स्प्रे कर सकते है।
  • इसकी मदद से पौधों में लग रहे कीड़े और चीटियों के उपचार के लिए इस पानी में एक चम्मच हल्दी मिलाकर स्प्रे करें।

गुड़हल के पौधे से जुड़ी इन बातों का रखें खास ध्यान

अगर आपने गुड़हल का पौधा लगाया है तो आपकी इन बातों का ध्यान रखना होगा। इस पौधे को भरपूर धूप की जरूरत होती है रोज इस पौधे को 8-10 घंटे धूप में जरूर रखे। समय-समय पर कटाई और छंटाई करते रहे। पौधे की ज्यादा गुड़ाई न करें, इस हर दो माह में गुड़ाई की जरूरत होती है

Back to top button