Wednesday, October 5, 2022
Homegold silver priceGold Rate Today 29 July: सोने और चांदी की कीमत में आज...

Gold Rate Today 29 July: सोने और चांदी की कीमत में आज बहुत तेजी से बढ़ाव आये जानिए रेट !

Gold Rate Today 29 July : अगर आप सोना खरीदने की सोच रहे थे तो शायद अब दे रहे हैं। पिछले कई दिनों से सोने की कीमतों में तेजी जारी है. इस बीच शुक्रवार को सोने की कीमतों में जबरदस्त उछाल देखने को मिला है. शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में सोना 700 रुपये प्रति 10 ग्राम महंगा हो गया. शुक्रवार को 24 कैरेट सोना 51,380 रुपये पर कारोबार कर रहा था. वहीं चांदी शुक्रवार को 1,900 रुपये प्रति किलो की तेजी के साथ 56,500 रुपये पर पहुंच गई|

शहर      22 कैरेट  24 कैरेट
दिल्ली47,100 रुपये51,380रुपये
मुंबई47,100 रुपये 51,380 रुपये
कोलकाता47,100 रुपये51,380रुपये
चेन्नई47,670रुपये52,000रुपये

ये है एक किलो चांदी की कीमत
मुंबई, दिल्ली और कोलकाता में एक किलो चांदी 56,500 रुपये में बिक रही है. वहीं, चेन्नई, बेंगलुरु और हैदराबाद में एक किलो चांदी शुक्रवार को 61,200 रुपये पर कारोबार कर रही है.

विदेशी बाजारों में कीमतें
अमेरिकी सोना वायदा 0.1 फीसदी बढ़कर 1,752.70 डॉलर प्रति औंस हो गया। मई के मध्य के बाद से सोना अपने सबसे अच्छे सप्ताह के लिए ट्रैक पर है, कीमतों में अब तक 1.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। हालांकि, सर्राफा के लगातार चौथी मासिक गिरावट से बचने की संभावना नहीं है, जो नवंबर 2020 के बाद से इसका सबसे खराब नुकसान है। हाजिर चांदी 0.2 प्रतिशत बढ़कर 20.01 डॉलर प्रति औंस हो गई।

जुलाई की शुरुआत में कीमत 52000 से ऊपर थी
इस महीने की शुरुआत में सोने की कीमत 52 हजार रुपये से ज्यादा थी. राष्ट्रीय राजधानी में 5 जुलाई को सोने का भाव 52,050 रुपये प्रति 10 ग्राम था. वहीं चांदी का भाव 58,358 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गया था. इसके बाद सोने-चांदी की कीमतों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है.

घट सकती है सोने के गहनों की मांग
चालू वित्त वर्ष में भारत में सोने के आभूषणों की मांग पांच फीसदी घटकर 550 टन रह सकती है। इसका मुख्य कारण सीमा शुल्क में बढ़ोतरी है। एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। रेटिंग एजेंसी क्रिसिल ने बुधवार को कहा कि 30 जून को सोने पर सीमा शुल्क 5 प्रतिशत बढ़ाकर 12.5 प्रतिशत कर दिया गया था। इससे चालू वित्त वर्ष में सोने के आभूषण खुदरा विक्रेताओं की राजस्व वृद्धि स्थिर रहने की संभावना है।