Friday, January 27, 2023
HomeGovt Schemeसरकारी/प्राइवेट कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, जल्द मिलेगा ग्रेच्युटी का पैसा, जानिए पूरे...

सरकारी/प्राइवेट कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, जल्द मिलेगा ग्रेच्युटी का पैसा, जानिए पूरे नियम और कानून

Gratuity Withdraw Rules: सरकारी/प्राइवेट कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, जल्द मिलेगा ग्रेच्युटी का पैसा, जानिए पूरे नियम और कानून। ग्रेच्युटी आपकी सैलरी का वह हिस्सा होता है जो कंपनी आपकी सालों की सर्विस के बदले देती है. ग्रेच्युटी (Gratuity Rule) वह फायदेमंद स्कीम है जो रिटायरमेंट बेनिफिट का हिस्सा है और जॉब छोड़ने पर एंप्लॉयी को कंपनी देती है.

ये भी पढ़े- 1 जनवरी 2023 से लागू होंगे RTO के नए नियम, 33 साल बाद होगा नियमो में बड़ा बदलाव, जाने क्या है नए नियम

अगर आप नौकरी करते हो तो जानिए क्या होता है ग्रेच्युटी और क्या होते है इसके फायदे

If you do a job then know what is gratuity and what are its benefits

अगर आप नौकरी करते हैं तो आपको यह जानना जरूरी है कि ग्रेच्युटी क्या होती है. क्योंकि यह कंपनी की तरफ से कर्मचारियों को मिलने वाला रिवॉर्ड होता है. आसान शब्‍दों में समझें तो ग्रेच्‍युटी कंपनी में लंबे समय तक काम करने का एक इनाम है, जिसे एक फिक्स फॉर्मूले के तहत दिया जाता है. इसके कई फायदे भी हैं. ऐसे में यह जानना चाहिए कि ग्रेच्युटी कैसे कैलकुलेट की जाती है. साथ ही इसके क्या फायदे हैं. ग्रेच्युटी को लेकर क्या नियम हैं? साथ ही क्या 5 साल से पहले ग्रेच्युटी मिलती है?

maxresdefault 2022 12 22T173032.023 1

क्या होती है ग्रेच्युटी?

ग्रेच्युटी आपकी सैलरी का वह हिस्सा होता है जो कंपनी आपकी सालों की सर्विस के बदले देती है. ग्रेच्युटी (Gratuity Rule) वह फायदेमंद स्कीम है जो रिटायरमेंट बेनिफिट का हिस्सा है और जॉब छोड़ने पर एंप्लॉयी को कंपनी देती है. हालांकि, इसके लिए जरूरी है कि आप किसी कंपनी में लगातार 4 साल, 10 महीने और 11 दिन काम चुके हो. यानी अगर आप साल में दो बार नौकरी बदलने का शौक रखते हैं तो आपको ग्रेच्युटी नहीं मिलेगी.

जानिए किस कर्मचारी को मिलेगा ग्रेच्युटी का लाभ

Know which employee will get the benefit of gratuity

Payment of Gratuity Act, 1972 के तहत कोई भी व्यक्ति जो कि किसी कंपनी में 5 साल तक नौकरी कर चुका है, वह ग्रेच्युटी (gratuity withdrawal rules) पाने के योग्य हो जाता है. 5 साल की अवधि से पहले कर्मचारी को ग्रेच्युटी नहीं मिलती.

ये भी पढ़े- क्या सच में हो रहा है 2000 का गुलाबी नोट बंद और नए साल में दिखेगा 1000 का नया नोट, जानिए इस वायरल खबर…

811982842

जानिए ग्रेच्युटी का कैलकुलेशन

Know the calculation of gratuity

[(अंतिम माह का बेसिक वेतन + महंगाई भत्ता) x 15 x सेवा में दिए गए साल] / 26

जानिए Gratuity का पूरा कैलकुलेशन

ग्रेच्युटी के फॉर्मुले को देखें तो यह थोड़ा कठीन नजर आएगा. तो इसे आसान भाषा में समझते हैं. उदाहरण के तौर पर आपने किसी कंपनी में 21 साल 11 महीने नौकरी की है. आपकी अंतिम बेसिक सैलरी 22,000 रुपए थी. इस पर आपको 24,000 रुपए महंगाई भत्ता मिलता था. सबसे पहले यह समझिए कि यहां आपकी नौकरी 22 साल की मानी जाएगी. फिर आप 22,000 और 24,000 की राशि को जोड़ेंगे. इनसे आपके पास 46,000 की रकम आएगी. इस रकम को 15 से गुणा करने पर 6,90,000 रुपए मिलेगा. फिर इस राशि को आपको अपनी सर्विस के साल यानी 22 से गुणा करना होगा और अब आपको 1,51,80,000 रुपए की राशि हासिल होगी. अब अंत में इस रकम को आप 26 से भाग देंगे, तो आपको 583846 रुपए मिलेगा. यानी आपकी ग्रेच्युटी अमाउंट 583846 रुपए है.

पेमेंट ऑफ ग्रेच्‍युटी एक्‍ट, 1972 कर्मचारी को कितना मिलेगा पैसा

Payment of Gratuity Act, 1972 How much money will the employee get

पेमेंट ऑफ ग्रेच्‍युटी एक्‍ट, 1972 (Payment of Gratuity Act, 1972)) के तहत ग्रेच्युटी का फायदा उस कंपनी के हर कर्मचारी को मिलता है जहां 10 से अधिक लोग काम करते हैं. कोई भी कंपनी अपने कर्मचारी को ग्रेच्‍युटी के तौर पर अधिकतम 20 लाख रुपए तक रकम दे सकती है. खास बात यह है कि ग्रेच्‍युटी के रूप में मिलने वाली रकम टैक्‍स फ्री होती है. यह नियम सरकारी और प्राइवेट नौकरी दोनों पर लागू होता है.

RELATED ARTICLES

Most Popular