Business

इस नस्ल की गाय बना देंगी मालामाल, होती है इतनी दूध देने की क्षमता, जानिए इसके पालन और विशेषता के बारे में…

इस नस्ल की गाय बना देंगी मालामाल, होती है इतनी दूध देने की क्षमता, जानिए इसके पालन और विशेषता के बारे में… भारत देश एक कृषि प्रधान देश है और यहाँ खेती के साथ में पशुपालन भी बड़े पैमाने पर किया जाता है, भारत में डेयरी का व्यवसाय भी बहुत फैला हुआ है, देश में दूध के लिए मुख्यतः भैस और गाय का पालन किया जाता है. ऐसे में आपको एक ऐसी नस्ल की गाय है मालवी गाय मध्य प्रदेश के मालवा पठार में पाई जाने वाली एक ज़ेबू मवेशी नस्ल है। इसे मंथनी या महादेवपुरी नाम से भी जाना जाता है। तो आइये जानते है इस नस्ल के बारे में.

यह भी पढ़े- Iphone को छोड़िए… 13 हजार रु में ले आये Samsung Galaxy S23, तगड़े कैमरे के साथ जानिए कैसे

मालवी गाय की विशेषता

मालवी गाय की विशेषता की बात करे तो यह प्रति दिन 5-7 लीटर तक दूध देती है और इसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होती है. वही यह उच्च तापमान सहनशील होती है. इसको कम चारा पर पलने वालीनस्ल होती है. इसका स्वभाव: शांत और मिलनसार होता है.

मालवी गाय की पहचान

मालवी गाय की पहचान की अगर हम बात करे तो यह इसका रंग सफेद या भूरा, उम्र के साथ सफेद होता जाता है। सींग घुमावदार होते है. कान छोटे और नुकीले होते है.

यह भी पढ़े- Vivo ने लॉन्च किया अपना दमदार स्मार्टफोन Vivo T3 5G, तगड़े कैमरे के साथ कीमत भी है इतनी

मालवी गाय का पालन के बारे में

मालवी गाय का पालन अच्ची सुखी और नमी रहित जगह पर करना चाहिए। इस नस्ल की गाय का पालन लगभग सामान्य गाय की तरह होता है. इसके आहार के बारे में बताये तो गिर नस्ल की गाय चारे में मक्का, बाजरा, गेहूं, जौं, जौं चावल, मूंगफली, सरसों, सों तिल, अलसी, मक्की से तैयार खुटाक, गुआरे का चूरा आदि का सेवन करती है।

Back to top button