धर्म

Mahashivratri 2024: महाशिवरात्रि पर बन रहे हैं 3 बड़े शुभ योग, जानिए पूजन का शुभ मुहूर्त

Mahashivratri 2024: फाल्गुन मास की कृष्ण चतुर्दशी तिथि को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार इस बार महाशिवरात्रि 8 मार्च 2024 को मनाई जाएगी। इस दिन कई शुभ योग बन रहे हैं। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, महाशिवरात्रि का पर्व भगवान शिव और माता पार्वती के विवाह के रूप में बनाया जाता है। इस पर्व को पूरे देशभर में बहुत ही हर्ष उल्लास से मनाया जाता है। इस दिन भक्त भगवान शिव की विधि-विधान से पूजा करते है। तो आइये जानते है महाशिवरात्रि के शुभ योग और शुभ मुहूर्त के बारे में।

यह भी पढ़े:-Hing Benefits: चुटकी भर हींग में छुपे है कई औषधीय गुण, इस दवा से मिलेंगे 5 गजब के फायदे

महाशिवरात्रि पूजा का शुभ मुहूर्त

महाशिवरात्रि का निशिता मुहूर्त देर रात 12 बजकर 7 मिनट से मध्यरात्रि 12 बजकर 56 मिनट तक रहेगा।
निशिता पूजा समय – 9 मार्च 2024 को दोपहर 12 बजकर 12 मिनट से 1 बजकर 1 मिनट तक रहेगा।
रात्रि पहला प्रहर पूजा समय- शाम 6 बजकर 29 मिनट से रात 9 बजकर 33 मिनट तक रहेगा।
रात्रि तृतीय प्रहर पूजा समय – 9 मार्च को सुबह 12 बजकर 37 मिनट से 3 बजकर 40 मिनट तक रहेगा।

महाशिवरात्रि शुभ योग

शिव योग- महाशिवरात्रि पर बन रहा यह शिव योग बेहद शुभ है। यह योग 8 मार्च 2024 को प्रातः 4 बजकर 46 मिनट से शुरू होगा और 9 मार्च 2024 को देर रात 12 बजकर 46 मिनट पर समाप्त हो जाएगा। इस योग में शिव आराधना करने से महादेव की कृपा भक्त पर बनी रहती है। ऐसा करना सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है।

यह भी पढ़े:-कभी न करें घर में करेले का पौधा लगाने की गलती, इसे लगाने से हो सकते है दुष्प्रभाव

सिद्ध योग- यह योग सिद्धि प्राप्ति के लिए शुभ माना जाता है। महाशिवरात्रि के दिन यह योग 9 मार्च 2024 की देर रात 12 बजकर 46 मिनट से शुरू होगा और शाम 8 बजकर 32 मिनट तक रहेगा। इस मुहूर्त के बीच भगवान शिव और मां पार्वती का पूजन शुभ माना जाता है। इस दिन विधि-विधान से पूजा करना बेहद फलदायी होता है।

सर्वार्थ सिद्धि योग- इस तरह के योग राशियों के अनुसार होते है। राशि में सूर्य, शनि, बुध का युति सम्बन्ध होता है। यह योग 8 मार्च 2024 को प्रातः 6 बजकर 38 मिनट से शुरू होगा और सुबह 10 बजकर 41 मिनट तक चलेगा। यह योग कार्यों को सिद्ध करने और उसमें सफलता प्रदान करने वाला होता है। इस दिन सभी कार्यों में उन्नति की प्राप्ति होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button