मटर की उन्नत वैरायटी देती है 80 से 100 क्विंटल प्रति हैक्टेयर तक औसत पैदावार, जानिए इसकी खेती के बारे में

Written by Suraj

Published on:

मटर की उन्नत वैरायटी देती है 80 से 100 क्विंटल प्रति हैक्टेयर तक औसत पैदावार, जानिए इसकी खेती के बारे में. देश में कई तरह की फसलों की खेती होती है और आपको बतादे किसान सोयाबीन, मक्का और धान की कटाई के बाद गेहू, चना और मटर समेत तमाम फसलों की खेती करते है. मटर की खेती देश में बड़े पैमाने पर किया जाता है वैसे तो इसकी मांग और डिमांड साल भर रहती है। जिससे किसान अधिक और अच्छा मुनाफा भी अच्छा खासा कमा लेते है। मटर की उन्नत वैरायटी की जानकारी कम होने से किसान अधिक मुनाफा नहीं ले पाते है ऐसे में आज हम बात कर रहे मटर की उन्नत वैरायटी और इसकी खेती के बारे में…

यह भी पढ़े- 4 लाख रु में दिया क्या पावरहाउस से ढूंढने से भी नहीं मिलेंगी 36 का कड़क माइलेज देने वाली Maruti की शानदार कार, फीचर्स भी…

मटर की उन्नत वैरायटी

मटर की उन्नत वैरायटी की बात करे तो अर्ली बैजर मटर की वैरायटी, काशी नन्दिनी (वी आर पी- 5) मटर की वैरायटी, पूसा श्री मटर की वैरायटी, पंत मटर 155 मटर की वैरायटी और विवेक मटर 8 मटर की वैरायटी जो की 60 से 70 दिनों में पककर तैयार हो जाती है, और यह वैरायटी 80 से 100 क्विंटल तक प्रति हैक्टेयर तक हरे मटर का उत्पादन दे सकती है.

मटर की खेती

मटर की बुवाई के बारे में बात करे तो इसकी बुवाई कतार विधि से सिड्रिल के माध्यम से की जाती है, और इसकी खेती में सिचाई , उर्वरक और कीटनाशकों का समय समय पर ध्यान रखना बेहद जरुरी है, इसके लिए मिटटी और तापमान भी बेहद जरुरी होता है,

मटर की खेती से कमाई

यह भी पढ़े- 40 से लेकर 80 लीटर तक दूध देने की क्षमता होती है इस नस्ल के गाय की, जानिए इसके बारे में..

मटर की खेती से कमाई की बात करे करे तो हरे मटर की कीमत बाजार में 20 रु किलो से लेकर 40 रु प्रति किलो होती है, वही मटर के दानो को पकाकर और सूखा कर इसकी दाल आदि बनाने में भी उपयोग किया जाता है, इस तरह लाखो रूपए की इससे कमाई की जा सकती है.

Leave a Comment