Thursday, March 30, 2023
HomeWeatherMonsoon 2022: दिल्ली समेत देशभर में कुछ दिनों का मेहमान है मानसून,...

Monsoon 2022: दिल्ली समेत देशभर में कुछ दिनों का मेहमान है मानसून, ठंड को लेकर आया IMD का लेटेस्ट अनुमान

Monsoon 2022: दिल्ली एनसीआर के लोगों को मानसून के जाने के समय उमस भरी गर्मी का अहसास हो सकता है, लेकिन जल्द ही उन्हें इससे राहत मिलने लगेगी. अधिकतम दो सप्ताह में सुबह-शाम सर्दी का अहसास होने लगेगा। अक्टूबर की शुरुआत में तापमान सामान्य रहने की उम्मीद है जबकि महीने के मध्य से तापमान सामान्य से नीचे रहने की संभावना है। हालांकि, एक अच्छी सर्दी के लिए, हमें नवंबर तक इंतजार करना होगा।

30 सितंबर को पूरी तरह विदा हो जाएगा मानसून
मौसम विभाग के मुताबिक 21 तारीख से पश्चिमी राजस्थान, दक्षिण हरियाणा और पंजाब से मानसून की विदाई शुरू हो जाएगी। इसकी सामान्य तिथि 17-18 सितंबर है। 27-28 के करीब यह दिल्ली एनसीआर से रवाना होगी। यहां इसकी सामान्य तिथि 25 सितंबर है। फिर 30 तारीख तक यह पूरे उत्तर भारत से प्रस्थान करेगी। अभी हवा की दिशा उत्तर-पूर्व की ओर चल रही है, जिसमें गर्मी और नमी भी है।

हवा की दिशा बदलते ही शुरू हो जाएगा बदलाव
मानसून के जाने के बाद हवा की दिशा उत्तर-पश्चिम की ओर होगी। यह जम्मू-कश्मीर से आएगा। इसके साथ ही पहाड़ों की ठंडक भी दिल्ली एनसीआर में पहुंचने लगेगी। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि हवा की दिशा बदलने से सुबह और शाम के मौसम में अंतर महसूस होने लगेगा। इसके बाद अक्टूबर के पहले पखवाड़े से अधिकतम और न्यूनतम तापमान में भी बदलाव देखने को मिलेगा। वर्तमान में जो तापमान सामान्य से ऊपर चल रहा है, वह सामान्य से नीचे आ जाएगा। इससे गर्मी की जगह गुलाबी ठंडक का अहसास होने लगेगा।

दिल्ली में मॉनसून की बारिश 38 फीसदी घटी
दिल्ली के लिए यह मानसून का मौसम बहुत अच्छा साबित नहीं हुआ। यही वजह है कि इस बार सामान्य से 38 फीसदी कम बारिश हुई है. दिल्ली के मानक वेधशाला सफदरजंग में जून, अगस्त और सितंबर के महीनों में सामान्य से कम बारिश दर्ज की गई थी। जून माह में सामान्य से 67 फीसदी, अगस्त में सामान्य से 82 फीसदी, सितंबर में अब तक 53 फीसदी बारिश सामान्य से कम रही है. केवल जुलाई में सामान्य से अधिक बारिश हुई है।

अक्टूबर के पहले सप्ताह में बदलेगा मौसम
महेश पलावत (उपाध्यक्ष (मौसम विज्ञान और जलवायु परिवर्तन), स्काईमेट वेदर) का कहना है कि मानसून के जाने के साथ हवा की दिशा बदल जाती है। हवा की दिशा बदलने के साथ ही मौसम भी बदलता है। अक्टूबर की शुरुआत में सुबह और शाम का परिवर्तन होगा, जबकि महीने के मध्य में तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी।

इस दौरान सिर्फ ठंड की दस्तक होगी, लेकिन असली ठंड नवंबर महीने की शुरुआत से ही शुरू हो जाएगी. इसके बाद लोगों को गर्म कपड़ों की जरूरत महसूस होने लगेगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular