Monday, September 26, 2022
HomeTrending100 रूपये की लकड़ी खरीद गाड़ी में बांधकर 80 km दूर ले...

100 रूपये की लकड़ी खरीद गाड़ी में बांधकर 80 km दूर ले गया बेटा माँ का सव, ना मिला इलाज ना मिला सव वाहन, जानिये क्यों

MP News Na Mila Ilaaj Na Mila Sav Vahan: शहडोल मेडिकल कॉलेज के बाहर रविवार को सुबह दिल को झकझोर देने वाली तस्वीरें सामने आईं। यहां एक महिला की मौत के बाद शव वाहन न मिलने की वजह से बेटों को मां के शव को बाइक पर बांधकर 80 किमी. दूर अपने घर ले जाना पड़ा।

WhatsApp Image 2022 08 01 at 10.30.22 AM

मजबूर बेटों ने बताया कि न तो अस्पताल में इलाज मिला और न ही शव वाहन, प्राइवेट शव वाहन वाले 5 हजार रुपए मांग रहे हैं जो उनके पास नहीं हैं। जिस किसी ने भी इन बेटों को मां के शव को बाइक पर बांधकर ले जाते देखा उसकी आंखों से आंसू छलक पड़े।

अनूपपुर के गोडारू गांव की रहने वाली महिला जयमंत्री यादव को सीने में तकलीफ होने के कारण परिजनों ने जिला अस्पताल शहडोल में भर्ती कराया था। जहां जयमंत्री की हालत में सुधार न होने के मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर किया गया।

WhatsApp Image 2022 08 01 at 10.30.23 AM

उपचार के दौरान रात में उसकी मौत हो गई। मृतका के बेटे सुंदर यादव ने जिला अस्पताल की नर्सों पर आरोप लगाते हुए बताया कि अस्पताल में लापरवाही पूर्वक इलाज किया जा रहा था।

जिससे स्वास्थ्य में सुधार नहीं हो रहा था। जब नर्स से मरीज को देखने की बात कही गई तो एक इंजेक्शन व एक बॉटल लगाया तबसे स्वास्थ्य और बिगड़ने लगा था। जिसके बाद मेडिकल कॉलेज लेकर आए, जहां दो घंटे बाद मां की मौत हो गई।

मृतका के बेटे सुंदर ने बताया कि मां की मौत के बाद उन्होंने शव वाहन के बारे में पता किया लेकिन अस्पताल में शव वाहन ही नहीं था। प्राइवेट शव वाहन वालों से बात की तो शव ले जाने के लिए 5 हजार रुपए मांगे लेकिन इतने पैसे उनके पास नहीं थे।