Tuesday, September 27, 2022
Homeदेश की खबरेभारत का पहला ऐसा रेलवे स्टेशन जो दिखता है एयरपोर्ट की तरह,जिसमे...

भारत का पहला ऐसा रेलवे स्टेशन जो दिखता है एयरपोर्ट की तरह,जिसमे पूरा शहर बसा है

News Desk India:भारत का पहला ऐसा रेलवे स्टेशन जो दिखता है एयरपोर्ट की तरह,जिसमे पूरा शहर बसा है,देश में कई ऐसे रेलवे स्टेशन हैं, जो अपनी खूबसूरती और सुविधा के लिए जाने जाते हैं। लेकिन, आज बात भारत के प्रथम विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन की, जिसे देखकर आपको लगेगा कि आप किसी एयरपोर्ट पर हैं, रेलवे स्टेशन पर नहीं। यह देश का पहला ISO-9001 प्रमाणित रेलवे स्टेशन है।

यात्रियों को भीड़भाड़ से बचाएगा एयर कॉनकोर्स हम बात कर रहे हैं मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के रानी कमलापति रेलवे स्टेशन की। जो किसी एयरपोर्ट से कम नहीं है। इस स्टेशन को साल 2021 में दोबारा विकसित किया गया था। जो जर्मनी के हीडलबर्ग रेलवे स्टेशन की तर्ज पर हुआ।

इसमें एयर कॉनकोर्स की सुविधा है। जो 84 मीटर लंबा और 36 मीटर चौड़ा है। जिसमें यात्री भीड़ से बचते हुए अंदर जा सकेंगे। इस एयर कॉनकोर्स में भी 900 यात्रियों के बैठने की क्षमता है। यह एक निगमित शहर है, इसे कभी हबीबगंज रेलवे स्टेशन के नाम से जाना जाता था। लगभग 450 करोड़ रुपये की लागत से इसका जीर्णोद्धार किया गया था। इसमें वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन जैसी सुविधाएं हैं।

जिसका नाम गोंड साम्राज्य की साहसी और निडर रानी कमलापति के नाम पर रखा गया था। इस हवाई अड्डे की तरह दिखने वाले आधुनिक रेलवे स्टेशन में एक पूरा शहर बसा हुआ है। यहां सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, फाइव स्टार होटल, कैफेटेरिया जैसी सभी सुविधाएं उपलब्ध होंगी।यह देश का पहला ऐसा रेलवे स्टेशन है, जहां यात्रियों की आवाजाही के लिए अलग-अलग रूट बनाए गए हैं। यदि कोई यात्री ट्रेन पकड़ना चाहता है, तो वह हवाई मार्ग से रेलवे प्लेटफॉर्म पर पहुंचेगा। वहीं अगर कोई यात्री यहां उतरता है तो वह सब-वे के जरिए रेलवे स्टेशन से बाहर निकल जाएगा।

स्वच्छ प्रतीक्षालय की सुविधा इस विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन पर साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखा गया है. यहां यात्रियों के लिए बेहद आलीशान वेटिंग रूम बनाया गया है। जो बेहद साफ सुथरा है और किसी फाइव स्टार होटल के कमरे से कम नहीं है, कमलापति रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। करीब 4 लाख वर्ग फुट के क्षेत्र में फैले रेलवे स्टेशन पर कुल 170 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. जो हर कदम पर स्टेशन की निगरानी करेंगे। इन हाई रेजोल्यूशन सीसीटीवी कैमरों की लाइव रिकॉर्डिंग सर्विलांस रूम में 24 घंटे तक की जाएगी।