Friday, January 27, 2023
HomeAstrologyकाम की बातPetrol-Diesel Price: पेट्रोल-डीजल के दाम में आयी भारी गिरावट, जानिए कितने रूपये...

Petrol-Diesel Price: पेट्रोल-डीजल के दाम में आयी भारी गिरावट, जानिए कितने रूपये हुआ सस्ता, यहाँ देखे नया रेट

Petrol-Diesel Price: पेट्रोल-डीजल के दाम में आयी भारी गिरावट, जानिए कितने रूपये हुआ सस्ता, यहाँ देखे नया रेट। पिछले 11 महीनों में अंतरराष्ट्रीय बाजार में अरंडी के तेल की कीमतों में बड़ी गिरावट आई है। ब्रेंट क्रूड ऑयल की कीमतों में करीब 35 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है, जबकि WTI क्रूड ऑयल की कीमतों में 38 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है।

5 रुपये तक सस्ता होगा पेट्रोल और डीजल (Petrol and diesel will be cheaper by Rs 5)

petrol diesel price 3

जानकारों का कहना है कि आने वाले दिनों में WTI की कीमतों में 5 डॉलर तक की गिरावट आ सकती है। अगर ऐसा होता है तो ब्रेंट क्रूड ऑयल 82 डॉलर के आसपास आ जाएगा। जिससे भारत में पेट्रोल डीजल के दाम में गिरावट की संभावनाएं और बढ़ जाएंगी। एक अनुमान के मुताबिक भारत में आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 5 रुपये तक की गिरावट आ सकती है।

ये भी पढ़े- बैंक ग्राहकों पर पड़ा दुखो का पहाड़, अगले 26 दिनों में यह सरकारी बैंक हो जायेगा प्राइवेट सेक्टर के हवाले, जानिए पूरी डिटेल

नवंबर माह में घटा कच्चे तेल का रेट (Crude oil rate reduced in November)

images 4

मार्च महीने में ब्रेंट क्रूड ऑयल की कीमत 139.13 डॉलर प्रति बैरल के आसपास पहुंच गई थी. अगर मार्च की कीमतों से तुलना की जाए तो नवंबर महीने में 35 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है। आज 23 नवंबर को कच्चा तेल 87.81 डॉलर प्रति बैरल पर है। जबकि 7 मार्च को WTI का भाव 130.50 डॉलर प्रति बैरल था। जो अब नवंबर महीने में घटकर 80.41 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है।

ये भी पढ़े- MP Patwari Bharti 2022: युवाओ को अपना सपना पूरा करने का सुनहरा मौका, 5,204 पदों पर निकली पटवारी भर्ती, आज ही करे आवेदन, देखे यहाँ

पेट्रोल डीजल के दाम सस्ते होने के कारन जानिए (Know the reason why the price of petrol diesel is cheap)

21740adc9cc8ff0ed193eba0f3f41a7e

1. दुनिया की बड़ी कंपनियां साल के अंत में बचे हुए कच्चे तेल को खत्म करने पर विचार करती हैं, जिससे तेल की मांग घट जाती है.

2. अमेरिका में स्टॉक और गोले में बढ़ोतरी हो सकती है। जिससे मांग के मुकाबले आपूर्ति भी अधिक हो गई है, जिससे आने वाले दिनों में कीमतों में गिरावट आने की उम्मीद है।

3.चीन में फिर से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं जिससे बार-बार लॉकडाउन हो रहा है. दुनिया के तमाम देशों में कोविड की नई लहर आने का डर है, जिससे कच्चे तेल की मांग घट रही है

4. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने हाल ही में कहा था कि अब वह अपने देश में कच्चे तेल के लिए ड्रिलिंग बढ़ाएंगे, ऋषि सुनक के बयान के बाद अन्य यूरोपीय देशों ने भी ड्रिलिंग बढ़ा दी है. जिससे उत्पादन बढ़ने की संभावना बढ़ गई है।

RELATED ARTICLES

Most Popular