Tuesday, September 27, 2022
Homeदेश की खबरेPolitics News: TMC सांसद महुआ मोइत्रा का PM मोदी पर तंज कहा...

Politics News: TMC सांसद महुआ मोइत्रा का PM मोदी पर तंज कहा तो हमारी सरकार DP को लेकर परेशान है

Politics News: TMC सांसद महुआ मोइत्रा का PM मोदी पर तंज कहा तो हमारी सरकार DP को लेकर परेशान है| तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सांसद महुआ मोइत्रा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर संसद में मानसून सत्र के दौरान तंज कसा। सांसद महुआ मोइत्रा ने तिरंगे को अपना सोशल मीडिया प्रोफाइल पिक्चर बनाए जाने की पीएम मोदी की अपील पर सवाल उठाए और निशाना साधा।

महुआ मोइत्रा ने शुक्रवार को कहा कि ऊर्जा संरक्षण (संशोधन) विधेयक सही दिशा में एक कदम है, लेकिन केंद्र सरकार के पास महत्वपूर्ण चीजों की अनदेखी करने और सुर्खियों पर ध्यान केंद्रित करने की एक अदभुत आदत है, इसलिए वो अभी भी प्रोफाइल पिक्चर को लेकर परेशान हैं।

GDP की जगह DP पर है पूरा फोकस…’ महुआ मोइत्रा ने मानसून सत्र के दौरान बोलते हुए अपना वीडियो ट्विटर हैंडल पर साझा किया है। जिसका उन्होंने कैप्शन लिखा है., ”इस सरकार में महत्वपूर्ण चीजों को नजरअंदाज करने और सुर्खियों पर ध्यान केंद्रित करने की एक अदभुत आदत है। उदाहरण के लिए जब हमें जीडीपी पर फोकस करना चाहिए तो सरकार द्वारा हमारे डीपी (प्रदर्शन चित्र) पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।” लोकसभा में बोलते हुए महुआ मोइत्रा ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोगों से अपील है कि तिरंगे को 2 अगस्त से 15 अगस्त के बीच अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स की प्रोफाइल पिक्चर के रूप में लगाएं।

महुआ मोइत्रा ने दी ये चेतावनी महुआ मोइत्रा ने कहा, वर्तमान में, उत्पादित हाइड्रोजन का 95 प्रतिशत ग्रे हाइड्रोजन है, जो प्राकृतिक गैस है, इसलिए परिवहन और उपयोग के लिए तकनीकी चुनौतियां हैं। हरित हाइड्रोजन अंतरिक्ष में एक प्रमुख अनुसंधान और विकास प्रयास की आवश्यकता है। यह आसान नहीं होगा 95 प्रतिशत ग्रे हाइड्रोजन से हरे हाइड्रोजन में स्थानांतरित करना।” टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने चेतावनी दी, “हमें ऊर्जा संरक्षण और ऊर्जा संरक्षण को प्रोत्साहित करने के बारे में वास्तव में गंभीर होना होगा और यह सिर्फ गैसबैग की सरकार बनने के लिए पर्याप्त नहीं है। हमें इससे कहीं अधिक करना है।”

ऊर्जा संरक्षण (संशोधन) विधेयक को लेकर क्या चल रहा है? इस सप्ताह की शुरुआत में लोकसभा में ऊर्जा संरक्षण (संशोधन) विधेयक पेश करने वाले बिजली और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने कहा कि विकसित देश स्वच्छ ऊर्जा के लिए अपने वादों को प्राप्त करने की गति में भारत से कोई मुकाबला नहीं कर सकते क्योंकि भारत के लिए पर्यावरण चिंता का विषय है और ऊर्जा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनने की दिशा में हम काम कर रहा है।

उन्होंने सदन में विचार के लिए विधेयक पेश करने के बाद यह टिप्पणी की। विधेयक में नवीकरणीय स्रोतों से अपनी ऊर्जा आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए 100 kW के न्यूनतम कनेक्टेड लोड वाले भवनों को अनिवार्य बनाने का प्रयास किया गया है। हालांकि बहस बेनतीजा ही रहा और इसे बाद में लिया जाएगा।