Business

Business Idea: पूरे साल होती है तेजपत्ते की मांग, आधुनिक तरीके से करोगे इसकी खेती तो हो जाओगे मालामाल

Business Idea: पूरे साल होती है तेजपत्ते की मांग, आधुनिक तरीके से करोगे इसकी खेती तो हो जाओगे मालामाल,  खेती में अगर पारंपरिक फसलों से हटकर बाजार में मांग के मुताबिक अलग चीजों की पैदावार करते हैं तो आप उम्‍मीद से कहीं ज्‍यादा मोटी कमाई कर सकते हैं। यह अपनी सुगंधित पत्तियों के लिए जाना जाता है, जिससे खाना और भी स्वादिष्ट बन जाता है। आप व्यावसायिक तौर पर तेज पत्ते की खेती करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. क्योंकि इसकी डिमांड भी बाजार में बहुत ज्यादा है, इसकी खेती में लागत के अलावा मेहनत भी बहुत कम लगती है. भारत में खाने में मसालों का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है.

यह भी पढ़ें :-मार्केट में धूम मचा रहा है Vivo का ये सस्ता स्मार्टफोन, शानदार कैमरा क़्वालिटी और फीचर्स के साथ देखे कीमत

बाजार में तेज पत्ता की काफी मांग रहती है. ऐसे में इसकी खेती मुनाफे का सौदा साबित हो सकती है. तेज पत्ता की खेती करना बेहद ही आसान है. तेजपत्ता के पौधे की पत्तियों का इस्तेमाल करी, पुलाव, सूप और अन्य विभिन्न व्यंजनों में होता है। आज के समय में बहुत से लोग अपना खुद का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं। हमेशा एक अच्छे बिजनेस आइडिया की तलाश में रहते हैं। अगर आप भी ऐसे बिजनेस की तलाश में हैं जिसमें कम निवेश में मोटी कमाई हो तो आप भी तेजपत्ते की खेती के बिजनेस से अच्छी कमाई कर सकते हैं. एक बार पौधारोपण कर कई बार मोटी कमाई की जा सकती है।

आप व्यावसायिक तौर पर तेज पत्ते की खेती करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. क्योंकि इसकी डिमांड भी बाजार में बहुत ज्यादा है. इसकी खेती में लागत के अलावा मेहनत भी बहुत कम लगती है. भारत में खाने में मसालों का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है. इसकी मांग न सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों में भी काफी है. भारत से इसका निर्यात अमेरिका और यूरोप जैसे देशों में भी किया जाता है।

Business Idea: पूरे साल होती है तेजपत्ते की मांग, आधुनिक तरीके से करोगे इसकी खेती तो हो जाओगे मालामाल

यह सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है. इसका उपयोग सभी प्रकार की खदानों में किया जाता है। भारत के साथ-साथ फ्रांस, इटली, बेल्जियम और फ्रांस जैसे देशों में भी तेज पत्ते का उत्पादन किया जाता है।

सरकार वित्तीय सहायता प्रदान करती है

औषधीय गुणों से भरपूर किशनगंज में उत्पादित तेजपत्ता विदेशों में भी अपनी महक बिखेरने लगा है। सरकार किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए वित्तीय सहायता भी प्रदान करती है। राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड द्वारा किसानों को तीस प्रतिशत अनुदान दिया जाता है। सिर्फ एक पौधे से तीन हजार से पांच हजार रुपये तक की आमदनी हो सकती है. इसका मतलब है कि किसान सिर्फ 25 पौधों से 1 लाख रुपये से ज्यादा की कमाई कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें :-Flower Farming: फूलों की खेती कर किसान कमा रहे है लाखो रुपए, जानिए इसकी खेती के बारे में सबकुछ

खेती कैसे शुरू करें

पूरे साल होती है तेजपत्ते की मांग, आधुनिक तरीके से करोगे इसकी खेती तो हो जाओगे मालामाल, अगर आपके पास खेती योग्य जमीन है तो उस पर पेड़-पौधे लगाकर खेती शुरू की जा सकती है. पेड़ लगाने के लिए शुरुआत में थोड़ी मेहनत करनी पड़ती है। जैसे-जैसे पौधा बड़ा होता है मेहनत भी कम हो जाती है. जब यह पेड़ बन जाता है तो इसे ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं होती। बाजार में मांग अधिक होने के कारण इस खेती से हर साल लाखों की कमाई की जा सकती है.

Back to top button