खेती-किसानी

Rajnigandha Farming: इस फूल की खेती करके किसानों को होंगी बंपर कमाई, जानें इसकी खेती की पूरी डिटेल

Rajnigandha Farming: आज के समय में किसान को पारम्परिक खेती के साथ व्यवसायिक खेती करने से अधिक मुनाफा कमा रहा है। ऐसे में किसानो ने नई-नई खेती करना शुरू कर दिया है। किसान ने रजनीगंधा के फूल की खेती को अपना कमाई का जरिया बना लिया है। इसकी खेती में कम लागत और कम मेहनत लगती है, और अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। फूलों का इस्तेमाल इत्र, अगरबत्ती, गुलाल, तेल बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। कई तरह के फूल अपने साथ औषधीय गुण लिए रहते हैं।

यह भी पढ़े:-Oatmeal Benefits: रोजाना ओट्स को डाइट में करें शामिल, सेहत को मिलेंगे 5 गजब के फायदे

बाजार में फूलों की डिमांड पूरे साल रहती है। हिन्दू धर्म में अनेक पूजा-पाठ की जाती है तो अक्सर लोग फूलों की माला लेते है। रजनीगंधा का फूल मनमोहक सुगंध वाला फूल है। गुलदस्ते में डबल टाइप ट्यूबरोज फूलदान का उपयोग किया जाता है। इस फूल का इस्तेमाल परफ्यूम बनाने में भी किया जाता है। तो आइये जानते है रजनीगंधा फूल की खेती करने के बारे में.

उपयुक्त मिट्टी

रजनीगंधा फूल की खेती करने के लिए उचित मिट्टी की जरूरत होती है। इसकी खेती के लिए दोमट और बलुई दोमट मिट्टी रजनीगंधा की खेती के लिए उपयुक्त होती है। अच्छी वृद्धि एवं फूल के लिए उपजाऊ, कार्बनिक खाद एवं नमी युक्त जमीन अच्छी मानी जाती है। रजनीगंधा के पौधे में गोबर की खाद और पत्ती की खाद का ज्यादा उपयोग किया जाता है।

उचित भूमि और जलवायु

इस फूल की खेती करने के लिए अच्छी जल निकासी भूमि होना चाहिए। रजनीगंधा एक शीतोष्ण जलवायु का पौधा है, किन्तु यह पूरे वर्ष मध्यम जलवायु में उगाया जाता है। भारत में समशीतोष्ण जलवायु में गर्म और आर्द्र जगहों पर इसकी अच्छी वृद्धि होती है। 20 से 350 सेंटीग्रेट तापमान रजनीगंधा के विकास और वृद्धि के लिए उपयुक्त होता है।

यह भी पढ़े:-इस साधारण से दिखने वाले 2 रुपये के पुराने नोट की कीमत सुन हो जाएंगे खुश, जानें इसकी खासियत

रोपण की तैयारी

रजनीगंधा फूल की खेती करने के लिए गहरी जुताई करना होता है। इसकी जुताई आप 2-3 बार भी कर सकते है। उसके बाद प्रति हेक्टेयर 25 से 30 टन अच्छी तरह से सड़ी हुई खाद डाल दे। रोपण से पहले मिट्टी में 75 किग्रा एन, 300 किग्रा पी और 300 किग्रा के प्रति हेक्टेयर मिला लेना चाहिए।

इस तरह करें रजनीगंधा के फूल की खेती

  • सबसे पहले खेत का अच्छे से रोपण कर लें।
  • इसके बाद दो तीन बार जुताई करें।
  • फिर मिट्टी को समतल करके उसमें खाद मिलाएं।
  • इसके बाद रोपाई करने के लिए क्यारी बनाएं।
  • रजनीगंधा की गांठों को लगाए।
  • एक एकड़ में 2100-2500 गांठों को लगाया जा सकता है।

रजनीगंधा के फूल की खेती से कमाई

इस फूल की खेती करने वाले किसान ने एक एकड़ में रजनीगंधा के फूल लगभग 1 लाख स्टिक फूल प्राप्त होते है। रजनीगंधा का एक फूल 5 से 6 रुपये तक बिकता है। इस हिसाब से आप एक एकड़ में उपजे फूलों से 1.5 लाख रुपये से 6 लाख रुपये कमाकर मोटी कमाई कर सकते है। रजनीगंधा के फूल बाजार में आसानी से बिकता है।

Back to top button