Friday, September 30, 2022
Homeदेश की खबरेSSC Scam News: ED की रिपोर्ट के मुताविक पार्थ चटर्जी और अर्पिता...

SSC Scam News: ED की रिपोर्ट के मुताविक पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी की 4 लग्जरी कार लापता…

SSC Scam News : प्रवर्तन निदेशालय ने अर्पिता मुखर्जी की 4 लापता कारों की तलाश शुरू कर दी है। एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि मुखर्जी के पास एक मर्सिडीज और एक मिनी कूपर कार थी। पश्चिम बंगाल के शिक्षक भर्ती घोटाले में पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी से पूछताछ के बीच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने करीब 15 और जगहों पर पूछताछ की। छापेमारी की तैयारी है। ईडी अब तक दो छापेमारी में करीब 50 करोड़ रुपये नकद बरामद कर चुकी है. सूत्रों ने शनिवार को बताया कि पूछताछ के दौरान अर्पिता मुखर्जी ने कबूल किया कि सारा पैसा पार्थ चटर्जी का है, उनका नहीं|

वहीं, ईडी की जांच पूरी होने के तुरंत बाद केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और आयकर विभाग (आईटी) भी इस मामले में शामिल हो सकते हैं. बेनामी संपत्ति के मामले में आयकर विभाग पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी से सवाल-जवाब कर सकता है। खबर यह भी है कि गायब हुई चार लग्जरी कारों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। ईडी के अधिकारियों को शक है कि इन कारों में पैसे लदे थे और कहीं भेज दिए गए थे|

ब्लैक डायरी में छिपे हैं कई राज

ईडी को अर्पिता के घर से मिली ब्लैक डायरी से शिक्षक घोटाले की परतें खुलने की उम्मीद है. ईडी के सूत्रों के मुताबिक उस ब्लैक डायरी में काफी जानकारियां हैं. डायरी में कई सीरियल और फोन नंबर हैं। इसमें कई आवेदकों के नाम भी शामिल हैं। इसके अलावा डायरी में कुछ एडमिट कार्ड नंबर भी हैं।

अर्पिता को महंगी गाडिय़ों में सैर पर ले जाते थे पार्थ

प्रवर्तन निदेशालय ने अर्पिता मुखर्जी की लापता 4 कारों की तलाश शुरू कर दी है। एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि मुखर्जी के पास एक मर्सिडीज और एक मिनी कूपर कार थी। इन कारों का इस्तेमाल पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी ने अर्पिता के साथ पिकनिक के लिए किया था। अर्पिता इन कारों में पार्टी भी करती थीं। इन अधिकारियों ने बताया कि इनमें से एक कार में अर्पिता निकलती थी और दूसरी कार में पार्थ। आगे जाकर पार्थ अर्पिता की कार में सवार हो जाते थे। इन सभी वाहनों को 2016 से 2019 के बीच खरीदा गया था।

शांतिनिकेतन में अर्पिता का फार्म हाउस

शांतिनिकेत में एक फार्म हाउस मिला है। उसका नाम आपा है। नाम के मुताबिक माना जा रहा था कि यह घर अर्पिता और पार्थ के नाम होगा, लेकिन राजस्व विभाग ने इससे पर्दा उठा दिया। विभाग के मुताबिक यह मकान अर्पिता के नाम है। यह जमीन अर्पिता ने 2012 में खरीदी थी। सूत्रों के मुताबिक यह जमीन अर्पिता ने कोलकाता निवासी 20 लाख रुपये में खरीदी थी।