Friday, March 31, 2023
HomeSport NewsIndian Team: टी-20 विश्व कप के लिए इन चारो खिलाड़ियों का हो...

Indian Team: टी-20 विश्व कप के लिए इन चारो खिलाड़ियों का हो सकता है पत्ता साफ़ जानिये कौन है ये खिलाडी

Indian Team: टी-20 विश्व कप के लिए इन चारो खिलाड़ियों का हो सकता है पत्ता साफ़ जानिये कौन है ये खिलाडी इस साल के आखिर में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए अगले कुछ दिनों के भीतर घोषित होने वाली भारतीय टीम को लेकर सभी दिग्गजों द्वारा अपनी अपनी पसंद पर जोर दिया जा रहा है . हर कोई अपने-अपने हिसाब से आंकलन कर रहा है. पूर्व दिग्गज भारतीय क्रिकेटरों का अपनी-अपनी इलेवन बनाने का सिलसिला शुरू हो गया है.

आशीष नेहरा ने किया अपनी प्लेइंग इलेवन का एलान

इसी बीच आशीष नेहरा ने भी आज ही अपनी प्लेइंग इलेवन का चयन किया. नेहरा की इस इलेवन में कोई चौंकाने वाला फैसला नहीं दिखा है परन्तु आप को बता दे की कई ऐसे खिलाडी है जिनका पत्ता टी 20 विश्व कप से काट सकता है। ऐसे कई खिलाडी है जिनका प्रदर्शन आईपीएल में तो बहुत अच्छा हुआ था परन्तु इंडिया टीम के लिए खेलते हुए इन्होने आपने फॉर्म कुछ खास अच्छा नहीं दिखाया उनमे से कुछ खिलाडी जो इस प्रकार है

आवेश खान- फिलहाल चोटिल होकर टीम इंडिया से बाहर चल रहे मध्य प्रदेश के पेसर आवेश खान का विश्व कप टीम से पत्ता कटना तय नजर आ रहा है. हालिया समय में आवेश की न केवल हांगकांग जैसी टीम के बल्लेबाजों ने बुरी तरह पिटायी की, बल्कि उन्हें अच्छे विकेट मिल सके. वहीं, उनकी गेंदों में उस धार और पैनेपन का अभाव दिखाई दिया , जो तब दिखता था, जब वह टीम इंडिया में नए-नए आए थे. ऐसे में आवेश का चयन बहुत ही मुश्किल होता दिख रहा है

रवि बिश्नोई – इस युवा लेग स्पिनर ने हालिया प्रदर्शन से दिखाया है कि वह लंबी रेस के घोड़े हैं. यह सही है कि बिश्नोई अतिरिक्त कोशिश करने के चक्कर में वाइड गेंदें भले ही कुछ ज्यादा कर देते हैं, तो लेकिन वह विकेट भी लेते हैं तो पावर-प्ले में तब बॉलिंग का जिगरा रखते हैं, जब तीस गज के घेरे के बाहर सिर्फ दो ही खिलाड़ी रहते हैं, लेकिन वह चहल से रेस में पिछड़े दिख रहे हैं. ऊपर से दो लेग स्पिनरों का चयन मुश्किल दिख रहा है.

आर. अश्विन– पहले फैंस यह कहते थे कि अश्विन टीम में क्यों नहीं हैं. जब अश्विन आए तो दिग्गज कह रहे हैं कि वह टीम में कर क्या रहे हैं. कारण साफ है कि उन्हें पर्याप्त मैच ही नहीं खिलाए जा रहे. एशिय कप तक तो सेलेक्टर्स प्रयोग कर रहे थे, लेकिन एशिया कप में खिलाए गए प्रयोग के तौर पर दो मैचों में अश्विन सिर्फ दो ही विकेट ले सके. आठ ओवरों में उनका इकॉनमी रेट 7.37 का रहा. ऐसे में अश्विन का पत्ता विश्व कप टीम से कट जाए,

भुवनेश्वर कुमार– एशिया कप में भारत के पहलू से अगर सबसे ज्यादा संपूर्ण लिहाज से किसी ने निराश किया, तो वह भुवनेश्वर कुमार रहे. सबसे निर्णायक पलों में जब टीम इंडिया जीत के मुहाने पर थी, तब दोनों ही मैचों में पारी के 19वें ओवर में भुवी हार की बड़ी वजह बन गए. बेशक भुवी ने 5 मैचों में 11 विकेट लिए, जिसमें से अफगानिस्तान के खिलाफ पांच विकेट भी शामिल हैं, लेकिन बड़े दो मैचों में सेलेक्टरों के भरोसे पर वार निश्चित रूप से किया होगा. पाकिस्तन को जब आखिरी दो ओवरों में जीत के लिए 26 रन बनाने थे, तब भुवी 19वें ओवर में इतने ही रन खा गए, तो जब श्रीलंका को अगले मैच आखिरी दो ओवर में 21 रन की दरकार थी, तो भुवनेश्वर ने 19वें ओवर में 14 रन खर्च कर डाले.

RELATED ARTICLES

Most Popular