Thursday, October 6, 2022
HomeHealth tipsHealth Tips: ब्रेन स्ट्रोक के ये संकेत हो सकते है जानलेवा, जाने...

Health Tips: ब्रेन स्ट्रोक के ये संकेत हो सकते है जानलेवा, जाने कैसे

Health Tips: ब्रेन स्ट्रोक के ये संकेत हो सकते है जानलेवा, जाने कैसे हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार अक्सर डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों में स्ट्रोक का खतरा अधिक होता है।

आज के समय में खराब जीवनशैली और खानपान के कारण ब्रेन स्ट्रोक की समस्या बढ़ती जा रही है। हर साल हमारे देश में 18 लाख से ज्यादा लोग ब्रेन स्ट्रॉक के शिकार होते हैं। इस बीमारी से पीड़ित 30 फीसदी मरीज ऐसे होते हैं जिनकी इलाज से पहले ही मृत्यु हो जाती है। इलाज की जानकारी का अभाव इन मौतों का सबसे बड़ा कारण है। डॉक्टरों का कहना है कि शरीर में स्ट्रोक के लक्षण दिखते ही तुरंत इलाज की जरूरत होती है।

तनाव, हाई ब्लड प्रेशर और शुगर के बढ़ने से स्ट्रॉक का खतरा हो सकता है। स्ट्रोक एक गंभीर बीमारी है जिसे आमतौर पर ब्रेन अटैक भी कहा जाता है। दरअसल दिमाग में खून के थक्के बनने के कारण दिमाग के एक हिस्से को लगातार ऑक्सीजन नहीं मिल पाती है, जिस कारण स्ट्रोक की समस्या हो जाती है।

स्ट्रोक होने से पहले मरीज में कई प्रकार के लक्षण दिखाई देते हैं अगर इन लक्षणों की शुरूआत में ही पहचान कर ली जाए तो स्ट्रोक के खतरे को रोका जा सकता है। आइए जानते हैं स्ट्रोक के चेतावनी संकेत क्या है और कैसे इनसे बचाव करें।

स्ट्रोक के चेतावनी संकेत क्या हैं ?

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों में स्ट्रोक का खतरा ज्यादा होता है। बता दें कि स्ट्रोक से कुछ समस्य पहले अक्सर मरीजों में कुछ लक्षण नजर आने लगते हैं। अगर इन लक्षणों कि ठीक समय पर पहचान कर ली जाए तो स्ट्रोक के खतरे से बचा जा सकता है।आइए जानते हैं स्ट्रोक से जुड़ें ऐसे ही कुछ लक्षणों के बारे में।

  • हाथों -पैरों में सूजन या कमजोरी का होना।
  • अचानक से एक या दोनों आंखों से कम दिखाई देना।
  • चलते समय कमजोरी महसूस होना व चक्कर आना।
  • बोलते समय जुबान का लड़खड़ाना।
  • शरीर का संतुलन बिगड़ना।

ऐसे करें बचाव :

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार अक्सर डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों में स्ट्रोक का खतरा अधिक होता है। स्ट्रोक का खतरा कम करने के लिए डायबिटीज और हाई बीपी से पीड़ित मरीजों को नियमित तौर पर अपनी जांच कराते रहना चाहिए। बता दें कि जो लोग शराब या सिगरेट का अधिक सेवन करते हैं उन्हें भी स्ट्रोक का खतरा बना रहता है।